Hindi story for kids

चार मित्र | Hindi story for kids | Moralstories |

चार मित्र | Hindi story for kids | Moralstories |     Moralstories:- बहुत दिन पहले की बात है। एक छोटा-सा नगर था, पर उसमें रहने वाले लोग बड़े दिलवाले थे। ऐसे न्यारे नगर में चार मित्र रहते थे। वे छोटी उमर के थे, पर चारों में बड़ा मेल था। उनमें एक था। राजकुमार, दूसरा …

चार मित्र | Hindi story for kids | Moralstories | Read More »

कौआ – अनोखा दोस्त | Hindi story for kids | Thirsty crow story in hindi |

कौआ – अनोखा दोस्त | Hindi story for kids | Thirsty crow story in hindi |     Thirsty crow story in hindi: एक कौआ था। वह एक किसान के घर के आँगन के पेड़ पर रहता था। किसान रोज़ सुबह उसे खाने के लिए पहले कुछ देकर बाद में खुद खाता था। किसान खेत …

कौआ – अनोखा दोस्त | Hindi story for kids | Thirsty crow story in hindi | Read More »

बकरी और सियार | Hindi story for kids | Famous short stories |

बकरी और सियार | Hindi story for kids | Famous short stories |     Famous short stories:- एक बकरी थी। रोज़ सुबर जंगल चली जाती थी – सारा दिन जंगल में चरती और जैसे ही सूर्य विदा लेते इस धरती से, बकरी जंगल से निकल आती। रात के वक्त उस जंगल में रहना पसन्द …

बकरी और सियार | Hindi story for kids | Famous short stories | Read More »

जटा हलकारा | Hindi story for kids | Story kids |

जटा हलकारा | Hindi story for kids | Story kids |     Story kids:- नपुंसक पति की घरवाली-सी वह शोकभरी शाम थी। अगले जन्म की आशा के समान कोई तारा चमक रहा था। अंधेरे पखवाड़े के दिन थे। ऐसी नीरस शाम को आंबला गांव के चबूतरे पर ठाकुरजी की आरती की सब बाट देख …

जटा हलकारा | Hindi story for kids | Story kids | Read More »

हाथियों का गणित | Hindi story for kids | Moral stories for students |

हाथियों का गणित | Hindi story for kids | Moral stories for students |      Moral stories for students:- सेठ घनश्याम दास बहुत बड़ी हवेली में रहता था। उसके तीन लड़के थे। पैसा, नौकर, चाकर, घोड़ा गाड़ी तो थी ही, मगर उसे अपने ख़ज़ाने में सबसे अधिक प्यार अपने 17 हाथियों से था। हाथियों …

हाथियों का गणित | Hindi story for kids | Moral stories for students | Read More »

चोर और राजा | Hindi story for kids | Short stories for kids with pictures |

चोर और राजा | Hindi story for kids | Short stories for kids with pictures |     Short stories for kids with pictures:- किसी जमाने में एक चोर था। वह बडा ही चतुर था। लोगों का कहना था कि वह आदमी की आंखों का काजल तक उड़ा सकता था। एक दिन उस चोर ने …

चोर और राजा | Hindi story for kids | Short stories for kids with pictures | Read More »

बकरी और बाघिन | Hindi story for kids | Panchatantra stories for kids |

बकरी और बाघिन | Hindi story for kids | Panchatantra stories for kids |     Panchatantra stories for kids:- बहुत पुरानी बात है। एक गाँव में एक बुढ़ा और बुढिया रहते थे। वे दोनो बड़े दुखी थे क्योंकि उनके बच्चे नहीं थे। दोनों कभी-कभी बहुत उदास हो जाते थे और सोचते थे हम ही …

बकरी और बाघिन | Hindi story for kids | Panchatantra stories for kids | Read More »

चम्पा और बाँस | Hindi story for kids | Hindi story for class 2 with moral |

चम्पा और बाँस | Hindi story for kids | Hindi story for class 2 with moral |     Hindi story for class 2 with moral:- बहुत दिनों पहले एक राजा रहता था। उनकी दो रानियाँ थीं। दोनों रानियाँ नि:सन्तान थी। राजा सभी मन्दिरों में जा – जा कर पूजा-पाठ करते, घर में पूजा-पाठ करवाते। …

चम्पा और बाँस | Hindi story for kids | Hindi story for class 2 with moral | Read More »

अजगर बना पति | Hindi story for kids | Hindi short moral stories |

अजगर बना पति | Hindi story for kids | Hindi short moral stories |     Hindi short moral stories:- त्रिपुरा के पहाड़ी अंचल में दो सुंदर बहनें रहती थीं। उनके बालपन में ही उनकी माता का स्वर्गवास हो गया। उनके पिता अचाइ (पुरोहित) थे। उन्होंने पत्नी की मृत्यु के पश्चात दूसरा विवाह नहीं किया। …

अजगर बना पति | Hindi story for kids | Hindi short moral stories | Read More »

महुआ का पेड़ | Hindi story for kids | Short hindi stories |

महुआ का पेड़ | Hindi story for kids | Short hindi stories |     Short hindi stories:- बहुत पुरानी कहानी है। एक गांव में एक मुखिया रहता था जो अपने अतिथियों से बड़े आदर से बड़े प्रेम से पेश आता था। वह मुखिया हमेशा इन्तजार करता था कि उसके घर कोई आये, और वह …

महुआ का पेड़ | Hindi story for kids | Short hindi stories | Read More »